आगे पीछे - Aage Peeche (Shekhar Ravjiani, Sneha Pant, Golmaal: Fun Unlimited)

Encrypting your link and protect the link from viruses, malware, thief, etc! Made your link safe to visit. Just Wait...

Movie/Album: गोलमाल: फन अनलिमिटेड (2006)
Music By: विशाल-शेखर
Lyrics By: विशाल ददलानी, कुमार
Performed By: शेखर, स्नेहा पंत

क्यूँ आगे पीछे डोलते हो भँवरों की तरह
क्यूँ देखते हो मुझको यूँ बेसब्रों की तरह
क्यूँ आगे पीछे डोलते हो भँवरों की तरह
क्यूँ देखते हो मुझको यूँ बेसब्रों की तरह
क्या मेरे दीवाने हो, नहीं नहीं
क्या कोई परवाने हो, नहीं नहीं
क्या मेरे दीवाने हो, क्या कोई परवाने हो
काम क्या है मुझसे इतना कह दो जी ज़रा

बोल दे प्यार है खामोश क्यूँ है खड़ा
हम अगर होते तो बोल दिया होता
क्यूँ आगे पीछे डोलते हो भँवरों की तरह
क्यूँ देखते हो मुझको यूँ बेसब्रों की तरह

खिड़की पे मेरी क्यूँ रखते हो अँखियाँ
करते हो क्यूँ तुम मेरी ही बतियाँ
करते हो क्यूँ तुम मेरी ही बतियाँ
मेरे लिए आते हो, नहीं तो
गीत गुनगुनाते हो, ना ना
मेरे लिए आते हो, गीत गुनगुनाते हो
बात क्या है दिल में तुम्हारे तुमको ही पता

छोड़ दे ये शरम, तू पास उसको बुला
हम अगर होते तो बुला लिया होता
क्यूँ आगे पीछे डोलते हो...

हाथों में क्यूँ है ये सोने का कंगना
तुमको पहना के ले जाऊँगा अंगना
सजनी बनाओगे, हाँ जी हाँ जी हाँ
जान भी लुटाओगे, अरे हाँ जी हाँ जी हाँ
सजनी बनाओगे, जान भी लुटाओगे
आज हम कहते हैं तुमसे प्यार हो गया

हाथ ये थाम कर कहाँ पे तू है चला
अपना भी शुक्रिया कर दिया होता

हम आगे पीछे डोलते है भँवरों की तरह
हम देखते है तुमको यूँ बेसब्रों की तरह
क्या मेरे दीवाने हो, अरे हाँ जी हाँ जी हाँ
क्या मेरे परवाने हो, अरे हाँ जी हाँ जी हाँ
क्या मेरे दीवाने हो, क्या मेरे परवाने हो
आज हम कहते हैं तुमसे प्यार हो गया

0 Response to "आगे पीछे - Aage Peeche (Shekhar Ravjiani, Sneha Pant, Golmaal: Fun Unlimited)"

Post a Comment